Green Coffee Banane Ka Tarika Hindi Mai : ग्रीन कॉफी बनाने का तरीका हिंदी में !

Green Coffee Banane Ka Tarika Hindi Mai दोस्तो, ग्रीन कॉफी आज कल फेमस ड्रिंक के रूप में ली जाने वाली सबसे पसंदीदा ड्रिंक बन गया है। ग्रीन कॉफी भी उन्ही कॉफी बीन्स से बनती है जिनका प्रयोग आप रोजाना पीने वाली कॉफी में करते है। ग्रीन कॉफी भी कॉफी का प्राकतिक रूप है। ग्रीन कॉफी के बीन्स कच्चे होते है क्योंकि इन्हें भुना नही जाता है।

Green Coffee Banane Ka Tarika Hindi Mai : ग्रीन कॉफी बनाने का तरीका हिंदी में !

Green coffee banane ka tarika

Green Coffee Banane Ka Tarika Hindi Mai

ग्रीन कॉफी बनाने का तरीका हिंदी में !

ग्रीन कॉफी का उपयोग बहुत सारे हेल्थ के फायदों के लिए किया जा रहा है। ग्रीन कॉफी के उपयोग की शुरुवात करे तो यह वजन कम करने, रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए और कैंसर में लड़ने में सहायक होती है ग्रीन कॉफी के अन्य लाभ भी है। तो चलिए जानते है Green Coffee Banane Ka Tarika Hindi Mai क्या क्या है।

ग्रीन कॉफी के अनगिनत लाभ – Green coffee ke fayde

 

1- वजन घटाए – Weight Loss Green Coffee Se 

दोस्तो, अगर आप बड़े हुए वजन से परेशान है तो अगर आप रोजाना एक्सरसाइज और डाइट प्लान नही कर सकते तो आप ग्रीन कॉफी का सेवन कर सकते है। इसके सेवन से आप बिना एक्सरसाइज और डाइट के ही तीन से चार किलो वजन घटा सकते है। वजन को नियंत्रित रखने के लिए ग्रीन कॉफी रामवाण उपाय है। यदि आप सुबह-सुबह ग्रीन कॉफी का खाली पेट ओर नास्ता करने से पहले Green Coffee Banane Ka Tarika Hindi Mai का सेवन करते है तो आपका वजन जल्द ही कम हो जाएगा।

 

2- कैंसर से बचाये –

कैंसर का प्राकतिक इलाज है ग्रीन कॉफी। ग्रीन कॉफी में उपस्थित क्लोरोनोजनिक एसिडिक बहुत ही जरूरी एंटीऑक्सिडेंट है जो कि ट्यूमर आदि के निर्माण को रोकता है। इसकी मदद से कैंसर जैसी बीमारियो को नियंत्रण रखकर उसकी वृद्धि को भी रोका जा सकता है। ग्रीन कॉफी शरीर के चार प्रकार के कैंसर को रोकने में मदद करता है। इसे आप अपने दिनचर्या में शामिल कर कैंसर जैसी घातक बीमारी से बच सकते है।

Also See : Benefits of green tea in hindi बेनिफिट ऑफ ग्रीन टी इन हिंदी

 

3- दिमाग को तेज करे –

इस ड्रिंक कॉफी को पीने से आपका मूड तो अच्छा होता ही है लेकिन यह आपके दिमाग को भी तेज करता है। यह आपके दिमाग की गतिविधियों, प्रतिक्रियाओं, याददाश्त बढ़ाने और सतर्कता को तेज करता है। साथ ही साथ बढ़ती उम्र के साथ होने वाली मानशिक कमजोरियों में भी ग्रीन कॉफी काफी लाभदायक है।

 

4- एंटीएजिंग में फायदेमंद –

ग्रीन कॉफी में मिलने वाले एन्टीएजिंग तत्व त्वचा पर पड़ने वाले उम्र के निशानों को कम करती है। उम्र बढ़ने के वजह से त्वचा पर होने वाले दाग-धब्बे, झुर्रियां साफ दिखने लगती है। जो कि हमारी बड़ी हुई उम्र का प्रदशन करती है। ऐसे में एन्टीओक्सिडेंट तत्व इन्ही सारी समस्याओं को कम करने में सहायक होते है और त्वचा को नया जीवन देते है।

इसके नियमित सेवन से चेहरे पर होने वाली छाइयां, रेखाएं, डार्क सर्कल्स जल्दी ही दूर होने लगते है। यह आपकी जादुई रूप से आपकी त्वचा का ख्याल भी रखती है। जिसकी मदद से आपके चेहरा प्राकतिक रूप से चमकने लगता है।

 

5- सिर के दर्द में दे राहत –

दोस्तो, ग्रीन कॉफी सिर दर्द को दूर करने के लिए काफी अच्छा उपाय है। इसमे मौजूद कैफीन सिर के दर्द को तेजी से कम करने के साथ-साथ इसे दूर करने में भी असरदार होता है।

 

6- ब्लड शुगर कम करे –

ग्रीन कॉफी डाइबिटीज वाले रोगियों के लिए काफी असरदार ड्रिंक माना गया है। इसका नियमित रूप से किया गया सेवन शरीर के ब्लड शुगर लेवल को सामान्य बनाये रखता है।

 

8- ह्रदय को स्वस्थ रखे –

दोस्तो, ग्रीन कॉफी में मिलने वाला क्लोरोजनिक एसिड ह्रदय के लिए काफी फायदेमंद होता है। साथ ही इसमे मौजूद एंटीऑक्सिडेंट तत्व ह्रदय की नलिकाओं को फैलने में मदद करते है और इससे प्राकतिक रूप से रक्तचाप को कम होने में मदद मिलती है। रक्तचाप कम होंने पर ह्रदय पर प्राकतिक तरीके से सकारात्मक प्रभाव पड़ता है। जिसकी वजह से ह्रदय लंबे रूप तक स्वस्थ रहता है।

 

ग्रीन कॉफी बनाने का तरीका – Green coffee banane ka tarika

दोस्तो, ग्रीन कॉफी बनाने के लिए आपको बाजार में ग्रीन कॉफी के बीन्स भी मिल जाएंगे और ग्रीन कॉफी का पावडर भी मिल जाएगा। इसलिए हम आपको दो तरीको के बारे में बताएगे की कैसे आप ग्रीन कॉफी के बीन्स से कॉफी बना सकते है और कैसे आप ग्रीन कॉफी के पावडर से ग्रीन कॉफी बना सकते है, तो चलिए इन्ही दो ग्रीन कॉफीयो को आप कैसे बना सकते है इनकी विधियो के बारे में जानते है।

 

1- ग्रीन कॉफी बनाने का तरीका बीन्स से –

सामग्री – 

  • ग्रीन कॉफी के बीन्स.
  • 150ml पानी.
  • स्वाद के लिए इलायची और शहद.

विधि –

दोस्तों, ग्रीन कॉफी बीन्स से बनाने के लिए रात को कुछ बीन्स पानी मे भिगोकर रख दे। उसके बाद सुबह उठकर बीन्स के पानी में ही बीन्स को पंद्रह मिनिट तक धीमी आंच में पकाईये। इसके बाद इसमे इलायची और एक चम्मच शहद मिला लीजिए। अब बीन्स की ग्रीन कॉफी तैयार है।

 

2- ग्रीन कॉफी बनाने का तरीका पॉवडर से –

सामग्री –

  • ग्रीन कॉफी का पॉवडर.
  • पानी.
  • शहद.

विधि-

दोस्तो, ग्रीन पॉवडर से ग्रीन कॉफी बनाने के लिए एक कप को ले लीजिए फिर इसमे एक चम्मच ग्रीन कॉफी के पॉवडर को मिला लीजिए। इसके बाद इसमे ऊपर से पानी ओर शहद डाल दीजिए और अच्छे से मिला लीजिए। फिर दस मिनिट बाद इसे छान लीजिए। अब ग्रीन पॉवडर की ग्रीन कॉफी तैयार है।

 

Note : Green Coffee Banane Ka Tarika Hindi Mai

उम्मीद करते हैं आपको Green Coffee Banane Ka Tarika Hindi Mai के बारे में पढ़ कर मजा आया हो गा . यह लेख में हमने Green Coffee Banane Ka Tarika और Green coffee ke fayde के बारे में बताया है .  दोस्तों कमेंट सेक्शन में आप अपनी परेशानी वह सुझाव के बारे में जिक्र जरूर  जरूर करें . हमारा toppicks का ब्लॉक पढ़ने के लिए यहां click करें .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *