Grilinctus Syrup Uses Hindi – Grilinctus Syrup के उपयोग

Grilinctus Syrup Uses Hindi – Grilinctus Syrup Uses In Hindi / Grilinctus ls Syrup In Hindi

Grilinctus Syrup Uses Hindi इस सिरप में 4 तरह की दवाइयां मिली रहती हैं । जो है, dectromethorphan _ 5 mg/ml , chlorphrniramine _ 2.5 / 5ml ,Ammonium chloride _ 60mg/ 5 ml ,Guaiphenesin _ 50 mg/ ml ये  सभी दवाइयों का उपयोग हम खांसी  की बीमारी के इलाज के लिए करते हैं । यह सभी दवाइयां बाजार में मेडिकल स्टोर पर अलग-अलग अपने ब्रांड नामों से बिकती है। यह हमें बाजार में grilinctus syrup के नाम से  भी मिलती है ।इसके  और भी ब्रांड   नाम होते हैं , जो अलग-अलग जगह पर अलग-अलग नाम से जाने जाते हैं।  इसकी कीमत भी ज्यादा नहीं होती है । इसे कोई भी व्यक्ति खरीद सकता है । यह अलग-अलग ब्रांड की 80 रुपए , 97 रुपए , 100   रुपए तक मिल जाएगी । 

Grilinctus Syrup Uses Hindi

Grilinctus Syrup Uses Hindi – Grilinctus Cough Syrup Uses In Hindi

1 ) इस सिरप का उपयोग ज्यादातर खांसी रोकने के लिए किया जाता है । हमें दो  प्रकार की खांसी होती है । एक सुखी खांसी और एक बलगम वाली खांसी । सामान्यता लोगों को दोनों खांसी के लिए अलग-अलग प्रकार की दवाई दी जाती है,  लेकिन यह सिरप दोनों प्रकार की खांसी को रोकने के लिए कारगर है ।

2 ) इस दवाई का उपयोग हम   गले में दर्द होने पर , पेट में खिंचाव और सामान्य तरह की एलर्जी को कम करने के लिए इस दवाई का उपयोग किया जाता है ।

3 ) इस दवाई का उपयोग आप तेज बुखार के इलाज के लिए भी कर सकते हैं , यह बुखार में भी फायदेमंद है ।

4 ) यह आपके शरीर के मेटाबोलिक सिंड्रोम को कम करती  हैं ।

5 ) यह आपके ऊपरी श्वसन तंत्र में होने वाले संक्रमण को भी रोकता है ।

Also See : Vestige Flax Oil Capsules Benefits In Hindi

6 ) कोई भी एलर्जी रिएक्शन को यह दवाई जड़ से खत्म कर देती है । 

7 ) खुजली की समस्या को दूर करने में इसका बहुत उपयोग किया जाता है ।

8 ) इसका उपयोग हम फ्लू को कम करने के लिए भी कर सकते हैं ।

9 ) पित्ती संबंधी रोग,  धूल से एलर्जी सारी समस्याओं में , हम इस सिरप का उपयोग कर सकते हैं । 

10) जोड़ों के दर्द को कम करने में यह दवाई सहायक है।

11 ) यह शरीर की सूजन को भी कम करती है ।

12 ) जब शरीर का कोई हिस्सा कोई भी अंग मुड़ जाता है या इंसान को किसी भी प्रकार के दौरे पड़ते हैं , तब भी म इस सिरप का उपयोग कर सकते हैं । 

 

Grilinctus ls Syrup Dose In Hindi

  • इस सिरप  का उपयोग आप दिन में दो से तीन बार कर सकते हैं । इस दवा को आप एक बार में सिर्फ पांच ml ही लें।  इससे ज्यादा इसका उपयोग ना करें। 
  • इस दवा का उपयोग आप खाना खाने के बाद ही करें ।अगर किसी को ज्यादा ही खांसी है,  तो इसका उपयोग आप खाना खाने से पहले भी कर सकते हैं ।
  • अगर आप इसे किसी डाक्टर की सलाह के बगैर लेते है, तो से आप 5 से 6 दिन तक उपयोग कर सकते है । इतने में ही आपकी  खांसी बिल्कुल ठीक  हो जाएगी । 

Grilinctus Syrup Warnings Hindi

  1. ✓ इस सिरप का  उपयोग 6 साल से कम उम्र की बच्चे ना करें,  क्योंकि इसमें ऐसे पदार्थ मिले होते हैं , जो कि बच्चों के लिए ठीक नहीं होते हैं । 
  2. ✓  इस दवा का उपयोग करते समय आप शराब का सेवन ना करें , क्योंकि यह दवाई शराब के साथ मिलने पर कुछ गंभीर साइड इफेक्ट्स कर सकती हैं ।
  3. ✓ इस दवाई का उपयोग करने के बाद आपको गाड़ी नहीं चलाना चाहिए और हाइट से दूर रहना चाहिए एवं हेवी मशीनों पर भी काम बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए । 
  4. ✓  अगर किसी व्यक्ति को लंग्स  की कोई बीमारी है , तो इसका उपयोग ना करें यह आपके लिए हानिकारक हो सकती है ।
  5. ✓ अगर किसी व्यक्ति को  हार्ट की  समस्या है या फिर आंख की कोई भी बीमारी है , तो भी इसका उपयोग ना करें ।
  6. ✓ इसका उपयोग आप  दवाइयों के साथ बिल्कुल भी ना करें।  अगर आपकी पहले से कोई और बीमारी की दवाइयां चल रही हैं,  तो उसके साथ इस दवाई का उपयोग ना करें या फिर अपने डॉक्टर  को इसके बारे में बताएं फिर ही इसका उपयोग करें । 

Grilinctus Cough Syrup Uses & Disadvantages In Hindi

1 ) इसका उपयोग करते  समय व्यक्ति का bp कम हो जाता है।

2 ) इसका उपयोग करने से आपकी छाती में जलन और दर्द भी हो सकता है ।

3 ) इससे  आपको नींद ज्यादा  आ सकती है । उल्टी होना, सिर दर्द होना,  भूख ज्यादा लगना  जैसी समस्याएं हो सकती हैं।

4 ) अगर आपको इसकी कोई अन्य भी साइड इफेक्ट्स देखने को मिलते हैं । कोई  भी एलर्जी हो  तो आप अपने डॉक्टर से संपर्क करें और इस दवा को  बंद कर दे । 

 

Note :

इस ब्लॉग मैं हम आपको Grilinctus Syrup Uses Hindi और Grilinctus Syrup Uses In Hindi( grilinctus ls syrup in hindi )के बारे मैं जानकारी देते है अगर आपको होमियोपैथी रे रिलेटेड जानकारी चाइये तो हमारा ये ब्लॉग फॉलो करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *