Hridyamrit Vati Uses In Hindi – हृदयामृत वटी के उपयोग

Hridyamrit Vati Uses In Hindi – हृदयामृत वटी के उपयोग – Patanjali Hridyamrit Vati Ke Fayde

 

Hridyamrit vati uses in hindi  हृदयामृत वटी को दिव्या फार्मेसी प्रोडक्ट्स द्वारा बनाया गया है , और यह पतंजलि कंपनी का प्रोडक्ट है । जैसा कि इसके नाम से ही आपको पता चलता है, हृदय अमृत वटी यानी कि हृदय के लिए उपयोगी एक दवाई है ,जो हमारे हृदय को स्वस्थ रखने में हमारी मदद करती है । इसकी आपको ₹160 में 60 टेबलेट मिल जाएंगी। यह आपको किसी भी पतंजलि मेडिकल स्टोर से उपलब्ध हो जाएगी और इसकी एक्सपायरी डेट कम से कम 5 साल तक रहती है ,इसका यूज आप 5 साल तक कर सकते हैं ,यह खराब नहीं होगी । इस हृदयामृत वटी में बहुत सारी महत्वपूर्ण जड़ी बूटियां मिलाई गई हैं, जो हमारे हृदय के लिए बहुत ही उपयोगी होती हैं।

Hridyamrit Vati Uses In Hindi

हृदयामृत वटी के उपयोग

Hridyamrit Vati Ke Fayde

  • अर्जुन, मकोय, पुनर्नवा ,निर्गुंडी ,रासना, गिलोय, नागरमोथा ,वायविदंग, हरण छोटी ,अश्वगंधा ,पीपला ,मूल ,अर्जुन का छाल, दालचीनी ,प्रवाल पिष्टी, मुक्ताशुक्ति ,भस्म ,जहरमोहरा ,पिष्टी और मुक्ता पिष्टी ।

यह बहुत ही महत्वपूर्ण जड़ी बूटियां हैं ,जो हमारे हृदय को स्वस्थ रखने में बहुत ही महत्वपूर्ण होती हैं ।

Also See : Vodacof Tablet – Vodacof Tablet Use In Hindi

 

Hridyamrit Vati Uses In Hindi / Hridyamrit Vati Benefits In Hindi

1 ) यह  हमारे शरीर में इम्यूनिटी सिस्टम को बढ़ाने का काम करता है, यानी कि यह हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है, जिससे हमें छोटे मोटे लोग नहीं लगते हैं । दिल की बीमारियों से हमें दूर रखता है और हमारे दिल को स्वस्थ रखता है ।

2 ) हृदयामृत वटी का उपयोग करने से यह हमारे कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रण में रखता है और हमारे शरीर में उपस्थित बुरे केलोस्ट्रोल को भी बाहर निकालने में मदद करता है, इससे हमारा हृदय स्वस्थ बना रहता है ।

3 ) इस वटी का उपयोग करने से जिन लोगों को हाई ब्लड प्रेशर की समस्या है, कम ब्लड प्रेशर की समस्या है उनकी समस्या भी दूर हो जाती है और हमारे हृदय को भी आराम मिलता है ।

4 ) दिव्य हृदयामृत वटी का उपयोग करने से यह हमारे दिल की मांसपेशियों को भी स्वस्थ रखता है ,जिससे हमारा दिल भी स्वस्थ रहता है और वह अच्छे से काम करता है ।

5 ) हृदयामृत वटी में उपस्थित अर्जुन और दालचीनी हमारे हृदय के लिए बहुत ही उपयोगी होती है, यह हृदय में उपस्थित सभी बुरे पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करती है और हमारे हृदय को स्वस्थ बनाए रखने में भी मदद करती है।

6); आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में हम अपने हृदय का अच्छे तरीके से ख्याल नहीं रख पाते हैं जिस वजह से हमारे हृदय में बहुत सारी परेशानियां पैदा होने लगती हैं, इसलिए इस समस्या को दूर करने के लिए हम हृदयामृत वटी का उपयोग करते हैं, जो हमारे हृदय को सारी परेशानियों से बचाता है और उसको स्वस्थ और मजबूत रखने में हमारी मदद करता है ।

7 ) अगर आपको दिल का दौरा पड़ा है, तो इसका सेवन करने से आपको फिर कभी दिल का दौरा नहीं आएगा ।

8) इसका उपयोग करने से आपको दिल की धमनियों में काफी मजबूती मिलेगी ।

 

Hridyamrit Vati Uses In Hindi / Hridyamrit Vati Dosage

✓ आप इसका उपयोग दिन में दो बार कर सकते हैं सुबह और शाम को।

✓ आप इसकी एक या दो टेबलेट को दिन में दो बार ले सकते हैं ,इससे ज्यादा आपको इसका उपयोग नहीं करना है।

✓  आप इसका सेवन खाली पेट या खाना खाने के बाद भी कर सकते हैं और आप इस टेबलेट को पानी या दूध दोनों के साथ ले सकते हैं ।

✓ 12 साल से अधिक उम्र के बच्चे इसका उपयोग दिन में एक बार ही कर सकते हैं ।

✓ इसका उपयोग आप हल्के गुनगुने पानी के साथ ही करें।

 

Hridyamrit Vati Side Effects

# हृदयामृत वटी का उपयोग अपनी डॉक्टर की सलाह पर ही करना चाहिए बिना डॉक्टर की सलाह लिए इसका उपयोग कभी भी नहीं करना चाहिए ।

# जिन लोगों को हाई शुगर की समस्या है या फिर जिन लोगों की किसी और बीमारी की दवाइयां चल रही हैं, उन लोगों को इस वटी का उपयोग नहीं करना है यह उनकी सेहत के लिए हानिकारक हो सकती है ।

#  12 साल से कम उम्र के बच्चे इस दवाई का सेवन ना करें।

 

Divya Hridyamrit Vati Extra Power Benefits In Hindi Disadvantages 

✓ इस वटी का उपयोग करने से आपको सिर दर्द, चिंता, नींद आने की समस्या हो सकती है।

✓ इसका उपयोग करने के बाद अगर आपको इससे कोई भी एलर्जी होती है ,तो आप इसका उपयोग करना तुरंत बंद कर दें।

 

Note : 

इस ब्लॉग मैं हम आपको hridyamrit vati uses in hindi और hridyamrit vati ke fayde के बारे मैं जानकारी देते है अगर आपको होमियोपैथी रे रिलेटेड जानकारी चाइये तो हमारा ये ब्लॉग फॉलो करे

Leave a Reply

Your email address will not be published.